Search Post


विषयवार यूपीटीईटी तैयारी हेतु यहाँ क्लिक करें

डी.एल.एड. की सभी न्यूज़ के लिए क्लिक करे

सरकारी नौकरी चाहिए नौकरीपाओ.कॉम पर जाओ यहाँ क्लिक करो

22 फरवरी को होगा महासंग्राम: 12वां संशोधन जिसमे 72825 का हित, 15, 16वां जिसमे लगभग एक लाख लोगों का हित: टेट उत्तीर्ण प्राथमिक शि.संघ

22 फरवरी को होगा महासंग्राम: 12वां संशोधन जिसमे 72825 का हित, 15, 16वां जिसमे लगभग एक लाख लोगों का हित: टेट उत्तीर्ण प्राथमिक शि.संघ

सम्मानित सभी 72825 भर्ती हुए टीईटी शिक्षक साथी आप सभी को सादर अवगत कराना है कि 22 फरवरी को अपने मुकदमे की अंतिम सुनवाई की तारीख कोर्ट में लगी है। यह तारीख आप सबके संज्ञान में भी पूर्व से ही होगी।। हमारी नौकरी लम्बे संघर्ष के बाद न्यायालय से मिला न्याय है।

जिसे पूर्ण रूप से सुरक्षित कर अंतिम फैसला अपने पक्ष में ले लेना है और होना भी यही है। लेकिन हमें इसके लिए एकजुट होकर अंत तक लड़ना होगा। कोई भी लड़ाई सही-गलत, न्याय-अन्याय, सत्य-असत्य के बीच ही होती है। और जीत एक की ही होती है और वह जीत सत्य की होती है। लेकिन क्या सही है और क्या गलत ये हमें साबित करना पड़ता है!!

अंतिम सुनवाई के लिए हम अपनी टीम के साथ मिलकर,A OR Amit pavan के माध्यम से वरिष्ठ अधिवक्ता RL .Basant को हायर कर चुके हैं बसंत जी केरल हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस रह चुके है ।और सुप्रीम कोर्ट में वरिष्ठतम अधिवक्ताओं में से एक हैं।बसंत सर को दो ब्रीफिंग करा दी गयी है।इनकी फीस एक हियरिंग की 2 लाख रुपये हैं।मैं इसी क्रम में मैं विगत तीन दिनों से दिल्ली में था और अपना कार्य पूर्ण करके आया हूँ हमारे साथ बागपत और सहारनपुर की टीम भी कार्य कर रही है।
मैं विवेकमिश्र(जिलाध्यक्ष),अभिषेकमिश्र(जिला संयोजक)और देवेंद्र सिंह (महामंत्री) ,टेट वेलफेयर संघठन ,सीतापुर के सम्मानित सदस्यों के संरक्षण में आपके कार्य को पूरी ईमानदारी से करने का प्रयास कर रहा हूँ।
निर्णय होना है कि 12वां संशोधन(टेट मेरिट यानि हमारी भर्ती) सही है या 15वां,16वां संशोधन( अकेडमिक मेरिट) सही।। 12वां संशोधन जिसमे 72825 का हित समाहित है और 15, 16वां जिसमे लगभग एक लाख लोगों का हित। हम बार-बार 15वें 16वें को गलत साबित किये और सरकार उस पर लाखों को नौकरी देती रही। आज उनकी संख्या हमसे ज्यादा हो गयी है और निःसंदेह अपने हित को सुरक्षित करने के लिए कोई पीछे नही हटेगा। हमसे ज्यादा वे लोग जागरूक हैं और होना स्वाभाविक भी है क्योंकि सरकार की गलत नीति का परिणाम उनके सामने है।
साथियों जब लड़ाई दो के बीच हो तो जीत एक की ही होनी है और जीतेगा भी वही जिसके पास सशक्त हथियार हो और सही हो।


सरकारी नौकरी चाहिए नौकरीपाओ.कॉम पर जाओ यहाँ क्लिक करो