Search This Blog

Today Hot News

68500 Vacancy News LT 10768 News Shikshamitra News Teacher Jobs

कानूनी तौर पर अब हाईकोर्ट द्वारा दिए गए अपियेरिंग, पुर्सुइंग और रिजल्ट Awaited बीएड/बीटीसी के साथ टीईटी मामले में क्या करें: जानिए हिमांशु राणा की कलम से

कानूनी तौर पर अब हाईकोर्ट द्वारा दिए गए अपियेरिंग, पुर्सुइंग और रिजल्ट Awaited बीएड/बीटीसी के साथ टीईटी मामले में क्या करें: जानिए हिमांशु राणा की कलम से

विदित है कि मुद्दा अब मा० सर्वोच्च न्यायालय जाना तय है वो भी उनके द्वारा जो इससे प्रभावित होने हैं उसमे केवल दो CATEGORIES हैं एक तो वे जो मा० उच्च न्यायालय इलाहाबाद में पार्टी थे और एक जो अभी तक संशय पर हैं कि आप और हमारे साथ क्या होगा अगर DECISION AS IT IS RELY हो गया तो यानी सीधी सी बात है एक तो मुख्य रूप से JUNIOR वाले और शेष बाकी की खल्खत (72825,15000,16448,12460,10000 ETC) |

1- सर्वप्रथम जो कि पार्टी हैं यानी जूनियर कैडेट उन्हें सरकार पर दबाव बनकर विशेष अनुज्ञा याचिका दाखिल करने के लिए कहना चाहिए क्योंकि मा० सर्वोच्च न्यायालय में STATE यानी सरकार को तरजीह दी जाती है नाकि लड़कों को और अगर ये मामला भी 99 फीसदी उसी बेंच में जाना है जहाँ से पूरा विवाद 25/07/2017 को निर्णित हुआ है और अगर उस बेंच ने लड़कों की फाइल देख ली और उठाकर फेंक दी तो वाकई भूचाल आ जाएगा इसलिए लड़के जो इससे AGGREIVED हैं वे सरकार पर दबाव बनाये और उनका साथ वे भी दें जो अगर निर्णय RELY हो गया तो प्रभावित होंगे |

2- अब बात करते हैं शेष खल्खत की जो कि मा० उच्च न्यायालय इलाहाबाद में पार्टी ही नहीं थे वे क्या करेंगे खुद से पार्टी बनने के लिए PERMISSION TO FILE SLP का रास्ता अपनाएंगे और होगा क्या ?
होगा ये कि FILE उठाकर ये कहकर फेंक दी जाएगी कि PROPER CHANNEL से आइये यानी पहले HIGH COURT से CLEAR कराइए सबकुछ तब आइये क्योंकि ये कडवा सत्य है कि मा० सर्वोच्च न्यायालय SERVICE MATTER में लड़कों से पहले STATE का रुख देखता है और गोयल साहब की बेंच में लड़के बारम्बार इतने मुद्दे लेकर जा चुके हैं कि वे उठाकर फेंक ही रहे हैं क्योंकि आदेश में कहीं न कहीं प्राथमिक 72825 का जिक्र जरूर होगा और वे सुनना ही नहीं चाहते हैं |

इसके अलेहदा कुछ का तर्क होगा कि हमने पहले तो ACCEPT करा ली थी तब की बात और थी क्योंकि STATE भी यहीं था और पूरा MATTER यहीं से सॉर्ट होना था तो TAG किया जा रहा था लेकिन अलग से अब जाओगे तो लिखकर रख लेना जो मैं कह रहा हूँ वहीँ होना है |

मैं ये नहीं कहूँगा कि तैयार न रहिये तैयार रहिये लेकिन जल्दबाजी में खुद को साबित करने के लिए ऐसा कदम न लीजिये कि आपकी और हमारी सभी की नौकरी पर बात आ जाए इसलिए धैर्य रखिये सरकार शांत है इस मुद्दे पर उसे जगाइए पहले और उसका स्टैंड CLEAR होने दीजिये और सीधी सी बात है निर्णय के बाद अभी तक तो सरकार ने आपको कोई चिट्ठी पत्रा नहीं दिया न तो बस आप तैयार रहिये अपनी तरफ से कुछ न कीजिये CONTEMPT झेलेगी सरकार तब खुद आएगी भागकर या जो भी करे आपको तो कुछ नहीं कह रही है न इसलिए रणनीति से चलिए कृपा करके |
इसके लिए मैं खुद मीटिंग कर रहा हूँ मेरठ में 24 जून को सुबह नौ बजे चौ० चरण सिंह पार्क में आइये वहां विचार विमर्श करते हैं सभी तथ्यों पर क्या होना क्या करना है क्या करना होगा बस अनावश्यक बैल को न्यौता न दीजिये कि आ और सर मार |

इतनी विनती है शेष आपकी मर्जी PERMISSION TO FILE SLP टिकेगा नहीं STATE को लगातार ज्ञापन दीजिये और हो सके तो एक आन्दोलन भी कीजिये |
Post A Comment
  • Blogger Comment using Blogger

No comments :