Today Breaking News

Search This Blog

BTC 2015 के चौथे सेमेस्टर के अभ्यर्थियों में बढ़ा आक्रोश, धरना जारी, आगामी शिक्षक भर्ती परीक्षा में शामिल न होने की शंका से आहत हैं प्रशिक्षु

BTC 2015 के चौथे सेमेस्टर के अभ्यर्थियों में बढ़ा आक्रोश, धरना जारी, आगामी शिक्षक भर्ती परीक्षा में शामिल न होने की शंका से आहत हैं प्रशिक्षु

इलाहाबाद : बैच के चौथे सेमेस्टर की परीक्षा को लेकर प्रशिक्षुओं ने आंदोलन तेज कर दिया है। धरने के दूसरे दिन परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय पर खूब नारेबाजी की। एसीएम यानि अपर नगर मजिस्ट्रेट के आने पर भी सचिव अनिल भूषण चतुर्वेदी से सीधे मुलाकात नहीं हो सकी। जबकि परीक्षा की तारीख पर सचिव ने फोन से एसीएम की हुई बात पर भी अभी स्पष्ट जवाब नहीं दिया। उन्होंने गुरुवार को आंदोलनरत अभ्यर्थियों से मिलने का आश्वासन जरूर दिया।

कौशांबी जिले में पेपर लीक होने के चलते परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय ने बैच के चौथे सेमेस्टर के सभी आठ पेपर निरस्त कर दिए हैं। परीक्षा की नई तारीख अब तक घोषित नहीं है। जिससे अभ्यर्थी आगामी शिक्षक भर्ती परीक्षा में शामिल नहीं हो सकेंगे। अभ्यर्थी परीक्षा निरस्त होने के बाद से परीक्षा संस्था के कार्यालय पर धरना दे रहे हैं।
बुधवार को अपर नगर मजिस्ट्रेट परीक्षा संस्था पर पहुंचे। उन्होंने अभ्यर्थियों की समस्या को सुना। सचिव के न रहने पर फोन से उनसे बात की। लेकिन, परीक्षा की तारीख को लेकर असमंजस बना रहा। बीटीसी संयुक्त प्रशिक्षु मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष सर्वेश प्रताप सिंह, अभिषेक सिंह, शशांक पांडेय ‘सत्यम’, अभिषेक सिंह, निखिल यादव आदि ने कहा है कि परीक्षा की तारीख जारी होने पर ही धरना समाप्त होगा।
क्रमिक अनशन की चेतावनी
चौथे सेमेस्टर की परीक्षा के मुद्दे पर आल बीटीसी वेलफेयर एसोसिएशन ने परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय पर धरना प्रदर्शन किया और डीएम को ज्ञापन सौंपा। प्रदेश महासचिव प्रफुल्ल सिंह के नेतृत्व में अमरमणि त्रिपाठी, मीरजापुर के मंडल अध्यक्ष विकास दुबे, रूपेंद्र उपाध्याय, अलीशेख आदि ने कहा कि मांग पूरी न हुई तो क्रमिक अनशन करेंगे।

सरकारी नौकरी से सम्बन्धित सभी जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लि क करे

BTC 2015 के चौथे सेमेस्टर के अभ्यर्थियों में बढ़ा आक्रोश, धरना जारी, आगामी शिक्षक भर्ती परीक्षा में शामिल न होने की शंका से आहत हैं प्रशिक्षु Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Uptet News

Today Most Important News