कोरोना काल में 2.14 लाख घट गए यूपी बोर्ड के विद्यार्थी

 कोरोना काल में 2.14 लाख घट गए यूपी बोर्ड के विद्यार्थी

कोरोना संक्रमण के बीच बंद चल रहे माध्यमिक विद्यालयों के नौवीं-ग्यारहवीं के विद्यार्थियों की अग्रिम पंजीकरण के लिए यूपी बोर्ड की ओर से पांच बार तिथि बढ़ाए जाने के बाद भी छात्र-छात्राओं की संख्या 2.14 लाख कम रह गई। पंजीकृत किए गए छात्र-छात्राएं वर्ष 2022 की बोर्ड परीक्षा में शामिल होंगे।


यूपी बोर्ड की ओर से 2020-21 के लिए जारी नौवीं-ग्यारहवीं के आंकड़े में कुल 51,13,568 छात्र-छात्राओं ने पंजीकरण करवाया। यह 2019-20 में पंजीकृत 53,28,373 से 2,14,805 कम है। यूपी बोर्ड सचिव दिव्यकांत शुक्ल की ओर से जारी आंकड़े में नौवीं में 2021 में कुल 28,24012 छात्र-छात्राओं का पंजीकरण हुआ है।


इसमें 15,68,275 छात्र एवं 12,55,737 छात्राएं पंजीकृत हैं। ग्यारहवीं में  कुल 22,80,556 विद्यार्थियों का पंजीकरण हुआ है, इसमें 12,37,284 छात्र एवं 10,52,272 छात्राएं पंजीकृत हुए हैं। सचिव दिव्यकांत शुक्ल के मुताबिक आधार कार्ड अनिवार्य करने के बाद उसकी निगरानी और कोरोना संक्रमण के कारण छात्र-छात्राओं की संख्या घटी है।

Post a comment

0 Comments