Search Post


Please Like Our Facebook Page
R6

उत्तराखंड : आंगनबाड़ी कर्मियों का मनदेय जारी, मुख्यमंत्री ने एक क्लिक पर किया डीबीटी हस्तांतरण

 उत्तराखंड : आंगनबाड़ी कर्मियों का मनदेय जारी, मुख्यमंत्री ने एक क्लिक पर किया डीबीटी हस्तांतरण

महिला सशक्तीकरण एवं बाल विकास विभाग के अंतर्गत प्रत्येक ग्राम स्तर पर कार्यरत आंगनबाड़ी कार्मिकों को प्रोत्साहन व मानदेय धनराशि का एकसाथ ऑनलाइन डीबीटी हस्तांतरण कर दिया गया है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शुक्रवार को एक क्लिक से मानदेय जारी किया। कार्यक्रम में विभागीय मंत्री रेखा आर्या भी ऑनलाइन जुड़ीं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आंगनबाड़ी कार्मिक संगठनों की लंबे समय से चली आ रही मांग को पूरा किया गया है। आंगनबाड़ी कार्यकर्त्रियों, मिनी कार्यकर्त्रियों व सहायिकाओं के मानदेय में क्रमशः 1800, 1500 एवं 1500 रुपये की वृद्धि की गई है। जिसके बाद उत्तराखंड देश में आंगनबाड़ी कार्मिकों को सर्वाधिक मानदेय देने वाला तीसरा राज्य हो गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सभी लोग गाइडलाइन का पालन करें। इस संबंध में समीक्षा के बाद कुछ और भी जरूरी निर्णय लिए जाएंगे। विभाग के सचिव हरिचंद्र सेमवाल ने कहा कि कार्यक्रम के अंतर्गत राज्य की कुल 14495 मुख्यमंत्री कार्यकर्त्रियों को 9300 प्रति कार्मिक की दर से लगभग 13 करोड़, कुल 14265 मुख्यमंत्री सहायिकाओं को 5250 प्रति कार्मिक की दर से लगभग 7.5 करोड़ तथा 4957 मिनी कार्यकर्त्रियों को 6250 प्रति कार्मिक की दर से लगभग 3 करोड़ रुपये जारी किए गए हैं। इस प्रकार समस्त 33717 कार्मिकों को दिसंबर माह के लिए लगभग 24 करोड़ रुपये के मानदेय का भुगतान किया जा रहा है।

साथ ही मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना के अंतर्गत 3067 लाभार्थियों को रुपये 3000 प्रति लाभार्थी की दर से माह जनवरी हेतु कुल रूपये 92 लाख का ऑनलाइन डीबीटी हस्तांतरण भी किया गया। विभागीय मंत्री रेखा आर्या ने ऑनलाइन जुड़कर कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकर्त्रियां विभाग की रीढ़ हैं और इसी को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने आंगनबाड़ी कार्यकर्त्रियों, मिनी कार्यकर्त्रियों तथा सहायिकाओं के मानदेय में वृद्धि भी की है।
टेक्निकल संबंधी न्यूज़ जानने के लिए इस लिंक को क्लिक करें
Post A Comment
  • Blogger Comment using Blogger
  • Facebook Comment using Facebook
  • Disqus Comment using Disqus

No comments :